29.1 C
Delhi
Wednesday, April 17, 2024

मोहसीन फखरीजादेह: ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक की हत्या

मध्य पूर्वमोहसीन फखरीजादेह: ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक की हत्या

ईरान के परमाणु कार्यक्रम और इसके उद्देश्य के बारे में पूछे गए सवालों पर अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के 2015 के “फाइनल एनालिसिस “में शामिल होने वाले एकमात्र ईरानी वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह थे।

तेहरान: ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह की हत्या कर दी गयी है। आतंकवादियों ने मोहसीन फखरीजादेह की कार को निशाना बनाया, जिसमें अनुभवी वैज्ञानिक गंभीर रूप से घायल हो गए। ईरान के रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक ईरान के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि दामावंद काउंटी के अबसार्द शहर में आधुनिक हथियारों से लैस आतंकवादियों ने वरिष्ठ परमाणु वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह की कार को निशाना बनाकर हमला किया।

श्री फखरीजादेह के अंगरक्षकों और आतंकवादियों के बीच गोलियां चलीं जिसमें दिग्गज वैज्ञानिक गंभीर रूप से घायल हो गए।

घायलों को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन तमाम प्रयासों के बावजूद डॉक्टरों की टीम उन्हें बचा नहीं सकी। अनुभवी परमाणु वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह ईरान के रक्षा मंत्रालय के अनुसंधान एवं नवाचार केन्द्र के प्रमुख थे।

फखरीजादेह और ईरान के परमाणु हथियार कार्यक्रम

पश्चिमी देशों की खुफिया एजेंसियों के मुताबिक श्री फखरीजादेह गुप्त रूप से चलाए जा रहे ईरान के परमाणु हथियार कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे थे।ईरान ने हालांकि हमेशा से यह दावा किया है कि उसका परमाणु हथियार कार्यक्रम शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए है।

श्री फखरीजादेह की हत्या ऐसे समय में हुई है जब ईरान के परमाणु कार्यक्रम के तहत यूरेनियम संवर्धन को लेकर चिंता जताई जा रही है। ईरान के विदेश मंत्री जावेद जरीफ ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए इसके लिए इजरायल को जिम्मेदार ठहराया है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, “आतंकवादियों ने आज ईरान के एक शीर्ष वैज्ञानिक की हत्या कर दी है। यह एक कायरतापूर्ण कार्रवाई है, जिसमें इजरायल के हाथ होने के संकेत हैं, यह हत्यारों के युद्ध की वकालत करने के इरादे को दर्शाता है।”

श्री जरीफ ने कहा, “ ईरान अंतरराष्ट्रीय समुदायों, विशेष रूप से यूरोपीय संघ से अपील करता है कि वो अपने शर्मनाक दोहरे रवैये को ख़त्म करके इस आतंकवादी हमले की निंदा करें।”

ईरानी सेना के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड काॅर्प्स (आई आरजीसी) ने कहा है कि ईरान अपने वैज्ञानिक की हत्या का बदला जरूर लेगा।

इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड काॅर्प्स के मेजर जनरल हुसैन सलामी ने कहा ,” परमाणु वैज्ञानिकों की हत्या करके हमें आधुनिक विज्ञान तक पहुंचने से रोकने की स्पष्ट प्रयास किया जा रहा हैं।

[हम्स लाईव]

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles