29.1 C
Delhi
Wednesday, April 17, 2024

ममता: चुनाव आयोग केवल भाजपा की सुनता है

इंडियाममता: चुनाव आयोग केवल भाजपा की सुनता है

ममता बनर्जी ने यहां एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, “मैं चुनाव आयोग से हाथ जोड़कर आग्रह करती हूँ कि केवल भाजपा की ही न सुनिए। सभी की बात सुनिए। पक्षपाती न बनिए।”

दमदम: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने सोमवार को आरोप लगाया कि चुनाव आयोग पक्षपात करता है और वह केवल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ही बात सुनता है।

सुश्री बनर्जी ने यहां एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, “मैं चुनाव आयोग से हाथ जोड़कर आग्रह करती हूँ कि केवल भाजपा की ही न सुनिए। सभी की बात सुनिए। पक्षपाती न बनिए।”

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कहा, “मैं वास्तव में दुखी और शर्मिंदा हूँ। मैंने इस तरह के प्रधानमंत्री नहीं देखे जो बोलते समय सीमा लांघ जाते हैं।”

सुश्री बनर्जी ने कहा, “मैंने सभी धर्मों के लिए काम किया है। मैंने क्या नहीं किया ? अब केवल एक चीज बची है, भाजपा हटाओ, देश बचाओ।
वाम दल और कांग्रेस भाजपा के एजेंट हैं। मोदी, आप ट्रम्प के पास ट्रम्प कार्ड खेलने गये और अब बंगलादेश बंगाल कार्ड खेलने गये।”

मुख्यमंत्री ने कहा, “आप बंगलादेश वोट के लिए गये और अब वहां हिंसा हो रही है। चुनाव आयोग स्वत: संज्ञान क्यों नहीं ले रहा?”

सुश्री बनर्जी ने कहा, “वे रेलवे ,बीएसएनएल, बैंक बेच रहे हैं। कुछ लोग कह रहे हैं कि और लोगों को गोली मारी जायेगी। राजनीति में यह अच्छी चीज दिखाई नहीं दे रही है। आप अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना सीखिए।”

तृणमूल सुप्रीमो ने कहा, “मैं शर्मिंदा हूँ कि वे बंगाल में रहते हैं। इस तरह के लोगों को जेल में डाल देना चाहिए और राजनीति से हटा देना चाहिए।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग कूच बिहार जैसी हत्यायें और किये जाने की धमकी दे रहे हैं उन पर राजनीतिक रूप से प्रतिबंध लगा देना चाहिए।

उन्होंने कहा, “कुछ राजनेता शीतलकुची जैसी घटनायें और होने की धमकी दे रहे हैं जबकि कुछ कह रहे हैं कि मृतकों की संख्या और ज्यादा होनी चाहिए थी। मैं ऐसी प्रतिक्रियायें देखकर हैरान और दुखी हूँ। ये कैसे नेता हैं ? ऐसे लोगों को राजनीतिक रूप से प्रतिबंधित कर दिया जाना चाहिए।”

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles