Tuesday, June 6, 2023
Homeइंडियाएफसीआई अधिकारियों के ठिकानों से 3 करोड़ रुपए नगदी और महत्वपूर्ण दस्तावेज...

एफसीआई अधिकारियों के ठिकानों से 3 करोड़ रुपए नगदी और महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले

सीबीआई द्वारा 1 लाख रुपए की रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार एफसीआई के 4 अधिकारियों के ठिकानों पर छापे की कार्रवाई के दौरान लगभग 3 करोड़ रुपए नगद, 387 ग्राम सोने के गहने और 670 ग्राम चांदी के गहने और महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले हैं।

भोपाल: केंद्रीय जांच ब्यूरो ( सीबीआई ) द्वारा एक लाख रुपए की रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार भारतीय खाद्य निगम ( एफसीआई ) के चार अधिकारियों के ठिकानों पर छापे की कार्रवाई के दौरान लगभग तीन करोड़ रुपए नगद, रुपयों के लेनदेन संबंधी दस्तावेज, नोट गिनने की मशीन और अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले हैं।

सीबीआई सूत्रों के अनुसार एफसीआई के यहां पदस्थ चार अधिकारियों हरीश हिनोनिया, अरुण श्रीवास्तव, मोहन परते और किशोर मीना को कल यहां एक सिक्योरिटी एजेंसी से जुड़े लोगों से एक लाख रुपयों की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया था।

बाद में इनके ठिकानों पर छापे की कार्रवाई की गयी। आज दोपहर तक इनके कब्जे से लगभग तीन करोड़ रुपए नगद, 387 ग्राम सोने के गहने और 670 ग्राम चांदी के गहने मिले हैं।

सूत्रों ने बताया कि जप्त की गयी नगदी विभिन्न लिफाफों और लकड़ी की अलमारी में छिपाकर रखे गए थे। इसके अलावा जो दस्तावेज मिले हैं, उनमें अनेक लोगों के नाम, तिथि, रकम का जिक्र है।

छापे में एक महत्वपूर्ण दस्तावेज के रूप में डायरी भी मिली है, जिसमें रुपयों के लेनदेन से जुड़े व्यक्तियों के नाम, तिथि, रकम और अन्य चीजों का जिक्र है। एक नोट गिनने की मशीन भी मिली है।

सूत्रों ने कहा कि एक कंपनी ने शिकायत दर्ज करायी थी कि एफसीआई के भोपाल डिवीजनल ऑफिस के प्रबंधक (लेखा) लंबित देयकों के भुगतान के एवज में डेढ़ लाख रुपयों की राशि मांग रहा है।

इस पर सीबीआई ने शिकायत दर्ज कर आगे की कार्रवाई की और कल चार अधिकारियों को रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया गया। इसके बाद इनके ठिकानों पर छापे की कार्रवाई की गयी।

[हैम्स लाइव]

Stay Connected

1,913FansLike
502FollowersFollow
433FollowersFollow
RELATED ARTICLES

Stay Connected

1,913FansLike
502FollowersFollow
433FollowersFollow

Most Popular

Recent Comments

Would you like to receive notifications on latest updates? No Yes