29.1 C
Delhi
Wednesday, April 17, 2024

पी.एल.वाई.एस के तहत सस्ती ब्याज दरों पर ऋण के नाम पर ठगी में एक गिरफ्तार

इंडियापी.एल.वाई.एस के तहत सस्ती ब्याज दरों पर ऋण के नाम पर ठगी में एक गिरफ्तार

पी.एल.वाई.एस ‘प्रधानमंत्री लोन योजना स्कीम’ के तहत काम करने का दावा करते हुए उन्हें ऋण दिलवाने का झांसा देकर लोगों से ठगी किया करते थे।

नयी दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने ‘प्रधानमंत्री लोन योजना स्कीम’ के तहत सस्ती ब्याज दरों पर ऋण दिलाने के नाम पर भोले-भाले लोगों को फंसा कर ठगी करने के एक मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर एक फर्जी कॉलसेंटर का पर्दाफाश किया है।

रोहिणी जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तायल ने सोमवार को बताया कि सूचना के आधार पर रोहिणी सेक्टर छह से मुख्य आरोपी दीपक सैनी समेत 12 महिला एवं पुरुष हिरासत में गए।

इनमें से दीपक को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया, जहां उसे 10 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है तथा अन्य की भूमिका की जांच की जा रही है।

उन्होंने बताया कि देशव्यापी ठगी करने वाला यह गिरोह रोहिणी उत्तरी क्षेत्र में एक कॉल सेंटर चलाता था, जहां करीब एक दर्जन लड़के-लड़कियों को इस काम के लिए रखा हुआ था।

वे लोगों को फोन कर उन्हें ‘प्रधानमंत्री लोन योजना स्कीम’ के लिए काम करने का दावा करते हुए उन्हें ऋण दिलवाने का प्रस्ताव करते थे। झांसे में आने के बाद वे उनसे ‘प्रोसेस फी’ भेजने के लिए कहते और रकम मिलते ही मोबाइल फोन बंद कर दिया करते थे।

श्री तायल ने बताया कि फर्जी कॉलसेंटर में प्रबंधक की भूमिका दीपक निभाता था।

नांगलोई क्षेत्र की छज्जुराम कॉलोनी के दीपक पर कॉलसेंटर के जरिये महाराष्ट्र, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, मध्यप्रदेश आदि राज्यों के अनेक लोगों से ऋण दिनाने के नाम पर ठगी करने के आरोप हैं।

उन्होंने बताया कि रोहिणी सेक्टर छह में विश्वकर्मा चौक के पास स्थित इस फर्जी कॉल सेंटर के बारे में 28 अगस्त को सूचना मिली थी। इस आधार पर तत्काल कार्रवाई करते हुए साइबर सेल के एक दल ने छापेमारी की।

इस दौरान मौके से 29 मोबाइल फोन, एक लैपटॉप, एक टेबलेट समेत कई कागजात बरामद किये गये हैं, जिसकी मदद से ये लोग अपराध को अंजाम देते थे। इस मामले में कॉल सेंटर मालिक की तलाश की जा रही है।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles